क्या कहता है लॉ गार्डन? युवा जोश और मुद्दों की जागरूकता: जन की बात की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट (Part 1)

क्या कहता है लॉ गार्डन? युवा जोश और मुद्दों की जागरूकता: जन की बात की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट (Part 1)

कल हम थे अहमदाबाद की सबसे शानदार जगह पर, जिसको सभी ‘लॉ गार्डन’ के नाम से जानते हैं, ‘जन की बात’ के CEO Pradeep Bhandari और Founding -partner Akriti Bhatia हमारी टीम के साथ मौजूद थे गुजरात चुनाव पर लोगों की राय जानने के लिए और यह पहला मौका नहीं था जहाँ हमारे CEO Pradeep Bhandari ने पूरी रिपोर्टिंग के दौरान माहौल को बहुत ही खुशनुमा बना दिया. वह अपने चिरपरिचित अंदाज में लॉ गार्डन पर उपस्थित लोगों और रिपोर्टर्स से बात कर रहे थे और उनकी राय जान रहे थे. इस फेसबुक लाइव में जन की बात के रिपोर्टर्स अनिरुद्ध गोपाल शर्मा, अमित पांडेय, निश्छल एवं स्पर्श उपाध्याय भी मौजूद रहे.

महंगाई बढ़ रही है और आम जनता खासकर गृहणियों को तकलीफ हो रही है

एक महिला ने हमसे बात करते हुए कहा की “अब तो कुछ भी सस्ता नहीं है. इलेक्शन आते ही सब बड़ी बड़ी बातें करते हैं लेकिन असल में काम कोई नहीं करता”. हालाँकि आगे उन्होंने माना की “मोदी सरकार ही आकर कुछ कर सकती है”.

हमारे यह पूछने पर की अभी भी मोदी सरकार है, फिर भी लोग तकलीफ की बात कर रहे हैं, तो एक बुजुर्ग ने हमसे कहा की “कुछ भी बदलने में वक़्त लगता है”

आगे हम लोकल निवासी रौनक से मुखातिब हुए जिन्होंने भाजपा की जीत के प्रति उम्मीद जताई, हालाँकि एक महिला का यह कहना था “गुजरात में कांग्रेस का सत्ता में आना भी मुमकिन है. मोदी जी ने काम अच्छा किया लेकिन मध्यम वर्ग की तकलीफ बढ़ी है, पेट्रोल, सब्ज़ी के दाम आये दिन बढ़ जाया करते हैं”. रौनक ने हार्दिक पटेल की तारीफ करते हुए कहा की “लोग उन्हें गंभीरता से लेने लगे हैं, कम से कम कोई है जो निचले तबके के लोगों की आवाज़ बन रहा है”

लोकल निवासी रौनक

एक और व्यक्ति जिन्होंने हमे अर्बन-समीकरण के विषय में बताया, उन्होंने कहा की जिस तरह से कांग्रेस जातीय-समीकरण बिठा रही है, जिसे जनता समझ रही और वो कांग्रेस को किसी हाल में को फायदा नहीं पहुँचाने वाला है. ‘विकास पागल हो गया है’ अब कोई पॉपुलर नारा नहीं रह गया है.

आगे बढ़ते हुए हमारी मुलाकात हुई एक महिला से हुई जिन्होंने मुद्दों के नाम पर (1) करप्शन और (2) क्लीनलीनेस पर जोर दिया.

एक फ़ूड स्टाल के मालिक देसाई से मिलते हुए जब हमने पूछा की क्या विकास पागल हो गया है? तो उनका कहना था, की “विकास पागल नहीं हुआ है, विकास तो सही है. गुजरात का नाम रोशन ही मोदी साहब की वजह से हुआ है“. हार्दिक, अल्पेश, मेवानी की उपयोगिता पर उन्होंने कहा की वो लोग कुछ खास नहीं कर पाएंगे.

फ़ूड स्टाल के मालिक देसाई

No one is perfect and even government is not perect and Government is learning

Yash talking to our reporters

आगे बढ़ते हुए रिपोर्टर निश्छल ने दो युवा, यश और राज़ से बात की, जिन्होंने हमे बहुत ही दिलचस्प बातें बताई. यश ने बोला की “कांग्रेस को राहुल गाँधी के नाम पर वोट नहीं मिलने वाला है”. आरक्षण के मुद्दे पर उन्होंने कहा की “कई बार सही कॉलेज नहीं मिल पाता है, आरक्षण की वजह से और शिक्षा में आरक्षण तो होना ही नहीं चाहिए”. जीएसटी को उन्होंने सही ठहराया.

Raz talking to our reporters

राज़ ने कहा की, “बीजेपी आ रही है और बीजेपी ही आने वाली है. कांग्रेस के पास न विज़न है, न फेस है“. शिक्षा के मुद्दे पर उन्होंने बोला, “आरक्षण अगर रहना है तो सिर्फ आय के आधार पर हो और शिक्षा में थ्योरी से ज्यादा प्रैक्टिकल पर ध्यान देना चाहिए”. जीएसटी पर उन्होंने कहा, “No one is perfect and even government is not perect and Government is learning“.

इस स्टोरी का दूसरा भाग पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

 

– यह स्टोरी स्पर्श उपाध्याय ने की है