“जनता कर्फ्यू” पर जन की बात ने चलाई अनोखी मुहिम

“जनता कर्फ्यू” पर जन की बात ने चलाई अनोखी मुहिम

प्रधानमंत्री मोदी ने देशवासियों से 22 मार्च यानी रविवार को जनता कर्फ्यू में शामिल होने का आग्रह किया। इसी का पालन करते हुए देशवासियों ने इस मुहिम को सफल बनाया। देशवासियों ने जनता कर्फ्यू के दौरान अपने घरों से बाहर ना निकल कर खुद को सेल्फ आइसोलेशन में रखा और शाम को 5 बजे उन लोगों का आभार व्यक्त किया जो कोरोना वायरस जैसी वैश्विक आपदा के दौरान इमरजेंसी सेवाएं उपलब्ध करा रहे हैं। इस दौरान देशवासियों ने डॉक्टर ,पुलिस, फायर ब्रिगेड, मीडिया आदि ऐसे व्यक्तियों का आभार व्यक्त किया जोकि कोरोना वायरस से लड़ाई की मुहिम में अपना अमूल्य योगदान दे रहे हैं।

जन की बात ने चलाई अनोखी मुहिम

इस कोरोनावायरस से लड़ाई की मुहिम में जन की बात ने भी एक अनोखी मुहिम चलाई। जन की बात के फाउंडर एंड सीईओ प्रदीप भंडारी ने तय किया की जन की बात देशभर से जनता कर्फ्यू के दौरान आए हुए वीडियो को अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर डालेगा और लोगों को जागरूक करेगा।  इस दौरान देश के अलग-अलग हिस्सों से जन की बात के पास कई वीडियो आए हैं जिसमें आम जन मानस प्रधानमंत्री मोदी के जनता कर्फ्यू की मुहिम को सफल बना रहे हैं। 

यही नहीं जब शाम को 5 बजे जब उन लोगों का आभार व्यक्त करने का समय आया जिन लोगों ने कोरोनावायरस जैसी घातक बीमारी के मुहिम में भी अपनी सेवाएं दे रहे हैं। इस दौरान भी देश के अन्य हिस्सों से कई वीडियो है जिसे जन की बात ने अपने सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर डाला। चाहे हरियाणा-उत्तर प्रदेश हो, दिल्ली हो, राजस्थान हो, मध्यप्रदेश हो या देश का कोई भी प्रदेश लगभग हर राज्य से जन की बात के पास वीडियो आया और जन की बात ने उसे अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर जाला जिसे जनता ने भी सराहा। 

छोटे-छोटे बच्चों ने प्रधानमंत्री की मुहिम का समर्थन किया

इस दौरान कई ऐसे वीडियो भी आए है जिसमें छोटे-छोटे बच्चों ने भी प्रधानमंत्री मोदी के जनता कर्फ्यू की मुहिम को सफल बनाया और अपना योगदान दिया। जन की बात ने अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर ऐसे वीडियो को भी डाला जिसमें छोटे बच्चों ने प्रधानमंत्री की मुहिम को सफल बनाया।